Daily abhi tak samachar

Hind Today24,Hindi news, हिंदी न्यूज़ , Hindi Samachar, हिंदी समाचार, Latest News in Hindi, Breaking News in Hindi, ताजा ख़बरें, Daily abhi tak

यात्रा प्रशासन संगठन की चार धाम यात्रा तैयारियों की समीक्षा बैठक

1 min read

• विभागों ने यात्रा तैयारियों की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।

•गढ़वाल आयुक्त सुशील कुमार की अध्यक्षता में ऋषिकेश में बैठक आयोजित हुई।

• बैठक के पश्चात आयुक्त ने अधिकारियों के साथ ऋषिकेश में बने चारधाम रजिस्ट्रेशन काउंटर एवं ट्रांजिट केंप का निरीक्षण किया।

ऋषिकेश 13 अप्रैल। चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा हेतु लेकर यात्रा बैठक 13 अप्रैल पूर्वाह्न नगर निगम स्वर्ण जयंती सभागार ऋषिकेश में गढ़वाल आयुक्त सुशील कुमार की अध्यक्षता में शुरू हुई । बैठक में आयुक्त / अध्यक्ष यात्रा प्रशासन संगठन ने चारधाम यात्रा से जुड़े सभी विभागो ने 7 फरवरी को आयोजित हुई चारधाम यात्रा बैठक में बनी कार्ययोजना के क्रियान्वयन की प्रगति आख्या प्रस्तुत की। आयुक्त ने कहा कि सभी विभाग यात्रा तैयारियों को अंतिम रूप दें। यह सुनिश्चित हो सके कि चारधाम आनेवाले सभी श्रद्धालुओं को सरलता एवं सुगमतापूर्वक दर्शन हो इसके लिए हर एक इंतजाम किये जायें। उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गये कि चारधाम यात्रा की तैयारियों को अति शीघ्र पूरा कर लिया जाये।

बैठक के पश्चात गढवाल आयुक्त ने ऋषिकेश में नव निर्मित रजिस्ट्रेशन काउंटर तथा ट्रांजिट केंप का निरीक्षण किया तथा ब्रिडकुल को तीन दिन की समय सीमा में ट्रांजिट केंप का में सभी कार्य पूरे करने के निर्देश दिये। उल्लेखनीय है कि ट्रांजिट केंप में यात्रा रजिस्ट्रेशन काउंटर बन कर तैयार हो गये है जहां कार्यदायी संस्था ईथिक्स ने स्टाफ तथा रजिस्ट्रेशन हेतु आवश्यक उपकरण लगा दिये है। ट्रांजिट केंप में यात्री शैल्टर, हेल्प डेस्क, सूचना सहायता केंद्र, अस्पताल, डारमेट्री सुविधा, केंटीन, सहित 150 बसों हेतु पार्किंग का भी निर्माण हुआ है‌।

आयुक्त ने चारधाम यात्रा बैठक में कहा कि चारधाम यात्रा के महत्व को समझते हुए संगठित समन्वयित होकर टीम भावना से कार्य करने की आवश्यकता है। कहा कि विगत वर्ष की चारधाम यात्रा का अनुभव सकारात्मक रहा है इस यात्रा वर्ष अधिक तीर्थ यात्रियों के आने की पूरी संभावना है। अत:देवभूमि आनेवाले सभी श्रद्धालुओं को धामों के दर्शन हों इसके लिए व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी।

उन्होंने कहा कि यात्री पंजीकरण तथा टाईम स्लाट का उद्देश्य तीर्थयात्रियों को दर्शन करने से रोकना नहीं है बल्कि उन्हें सरल सुलभ दर्शन उपलब्ध हो। उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद ने यात्री पंजीकरण प्रक्रिया का प्रस्तुतीकरण दिया बताया कि अभी तक चारों धामों में साढ़े 13 लाख तीर्थयात्रियों ने पंजीकरण करवा दिया है। तथा चारों धामों में पर्यटन मित्रों की तैनाती की जा रही है। दर्शन टोकन प्रक्रिया तथा यात्री रजिस्ट्रेशन तथा वैरिफिकेशन की जानकारी दी। पंजीकरण संस्था इथिक्स इंफोटेक ने बताया कि ऋषिकेश, हरिद्वार तथा धामों में वैरिफिकेशन काउंटर बनाये गये है जबकि यात्री रजिस्ट्रेशन वेबसाइट, फोन, वाटसप नंबर से किये जा रहे है। आयुक्त ने निर्देश दिये कि सभी वेरिफिकेशन काउंटर, नेट कनैक्टिविटी, वाई-फाई, मैन पावर, स्केनरों की संख्या, तथा अन्य संशाधन बढाये जाये।

पिछले यात्रावर्ष रिकार्ड 46 लाख तीर्थयात्री चारधाम पहुंचे इस यात्रा वर्ष अधिक तीर्थ यात्रियों के पहुंचने की उम्मीद है तीर्थयात्रियों की यात्रा सरल सुगम रहे इसलिए यात्रा को रेगुलेट किया जाना जरूरी है इसके लिए यात्रियों के आनलाइन / आफलाईन पंजीकरण की व्यवस्था को लागू किया गया है।।साथ ही जिलाधिकारियों को बदरीनाथ,जोशीमठ, सहित केदारनाथ तथा गंगोत्री यमुनोत्री में आवास व्यवस्था,यात्रा मार्गों के सुदृढ़ीकरण,पैदल मार्ग सुरक्षात्मक उपाय, सचिव आपदा प्रबंधन के निर्देशानुसार आपदा के दृष्टिगत सुरक्षात्मक उपाय तथा तैयारियां, चारों धामों हेतु स्वास्थ्य सुविधाओं, केदारनाथ मार्ग पर साफ सफाई, घोड़े खच्चरों का पंजीकरण, स्वास्थ्य परीक्षण, शैल्टर, पेयजल उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाये।

इस संबंध में यात्रा सीजन 2023 को एक सप्ताह से पहले फाईनल टच देने हेतु आयुक्त ने समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश दिये। परिवहन विभाग को संयुक्त रोटेशन सहित चारधाम यात्रा इसवर्ष चारधाम हेतु 2500 बसों की व्यवस्था की गयी है जिनमें से 1500 से 1900 तक बसे ऋषिकेश से तथा 500 बसे हरिद्वार से चलेंगी साथ ही बाहरी राज्यों से भी 350 बसे चारधाम पहुंचेगी। उत्तर प्रदेश तथा हिमाचल प्रदेश से भी बसें मंगायी जा रही है।
परिवहन विभाग ने बताया कि सभी वाहन आन लाईन ग्रीन कार्ड तथा सभी औपचारिकताएं पूरी कर फिटनेश कागजात दुरस्त रखेंगे आनलाइन कागजात पूरे होने चैकिंग से चैकिंग भी आसानी से होगी।

बैठक में पार्किंग, डेंजर जोनों पर सूचना पट लगाने, मार्ग अवरूद्ध होने मौसम की जानकारी हेतु इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले लगाने, सड़को को गड्डा मुक्त करने डामरी करण, शिरोबगड़ से खांकरा पुल तक भू स्खलन की समस्या को देखते हुए वैकल्पिक मार्ग डुंगरी पंथ खेड़ाखाल मार्ग , लाम बगड़, धराशू बेंड जैसे स्थानों में सड़क को दुरुस्त करने हेतु बीआरओ,लोक निर्माण विभाग,एनएचएआई, राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण विभाग ने प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल केएस नगन्याल ने कहा कि चारधाम यात्रा के दौरान एसडीआरएफ, गोताखोर,ट्रेफिक पुलिस व्यवस्था, चारों धामों में वाहनो की संख्या निर्धारित करने, ट्रैफिक व्यवस्था हेतु नोडल अधिकारी नामित किये गये है। बदरीनाथ धाम में डयूटी पर आनेवाले जवानों की व्यवस्था हेतु भी आवास उपलब्ध करवाये जायेंगे।

उन्होंने कहा कि चार धाम यात्रा में कानून व्यवस्था चाक-चौबंद रहेगी। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा चिकित्सकों की तैनाती,जीवन रक्षक दवाइयों, उपकरण, आक्सीजन सिलेंडर एंबुलेंस, एअर एंबुलेंस की ब्यवस्था, केदारनाथ एवं यमुनोत्री में कार्डियोलॉजिस्ट तैनाती,यात्रा बस टर्मिनल ऋषिकेश ट्रांजिट केंप में 6 बेड यात्री चिकित्सालय में जल्द स्टाफ की तैनाती , चारधाम यात्रा मार्ग पर स्वास्थ्य निरीक्षकों की तैनाती के संबंध में प्रगति आख्या प्रस्तुत की गयी। निकायों, पंचायतों द्वारा यात्रा मार्ग पर सफाई, पालीथीन कांग्रेस प्रयोग न करने हेतु अभियान,शुलभ इंटरनेशनल सोशियल सर्विस आर्गनाइजेशन द्वारा सुलभ शौचालयों में पेयजल आपूर्ति तथा स्वच्छता बनाये जाने, उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद द्वारा दिये निर्दशौं के अनुपालन में स्थायी एवं मोबाइल टायलेटों को चालू करवाने,बिजली, पानी की ब्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु कहा गया।

उत्तराखंड जल संस्थान ने बताया कि पेय जल आपूर्ति करने पेयजल सुविधा की सूचना साईन बोर्ड के माध्यम से दिये जाने यात्रा मार्गो पर पेयजल आपूर्ति हेतु स्थापित स्टेंड पोस्टों की रंगाई, पुताई का कार्य पूरा कर लिया गया है। उत्तराखंड पावर कारपोरेशन को चारधाम में विद्युत आपूर्ति तथा उरेडा द्वारा विद्युत आपूर्ति हेतु अतिरिक्त जेनरेटर व्यवस्था के कार्य किये गये है।। खाद्यान्न विभाग को यात्रा रूट पर खाद्यान्न भंडारण व्यवस्था,पैट्रोल, डीजल,गैस सिलेंडरों की पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है तथा भारत संचार निगम लि को चारों धामों तथा हेमकुंट साहिब में बेहत्तर दूर संचार व्यवस्था, फ्रीक्वेंसी, मोबाईल टावरों के सुचारू किया गया है।गढ़वाल मंडल विकास निगम को पर्यटक आवास गृहों की मरम्मत, साफ सुथरी आवास व्यवस्था तथा केदारनाथ में अतिरिक्त टेंट कालोनियों के निर्माण हो रहा है।

यात्रा प्रशासन संगठन यात्रा पंजीकरण ट्राजिट केंप आनेवाले यात्रियों की सुविधा हेतु शीतल पेयजल,वाटर कूलर व्यवस्था, यात्रियों के बैठने हेतु बैंचों की व्यवस्था, चिकित्सा केन्द्र, पुलिस सहायता,एस डी आर एफ टीम, चारधाम यात्रा पूछताछ केंद्र स्थापना, चारधाम पंपलेट प्रकाशन,साईन बोर्ड का कार्य अंतिम चरण में है।

उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास विभाग उकाडा से यात्रियों की सुविधा हेतु हेलीपेड निर्माण, हेली पेड के निकट अवस्थापना सुविधाएं, समय सारिणी, सूचना हेतु कार्य किये गये है। वन विभाग को चारो धामो के समीपवर्ती वन क्षेत्र में साफ सफाई यात्रा मार्ग पर सुदृढ़ीकरण तथा यात्री व्यवस्थाओं की गयी है।
इस तरह बैठक में आगामी चारधाम यात्रा तैयारियों की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की गयी।
पर्यटन विकास परिषद पुलिस अधीक्षक, गढ़वाल मंडल के समस्त जिलाधिकारी, उप जिलाधिकारी,पुलिस, पर्यटन, चिकित्सा, परिवहन, विद्युत, पेयजल, सीमा सड़क संगठन, राष्ट्रीय राजमार्ग, पीडब्ल्यूडी, पेयजल, खाद्यान्न, नगरनिगम, पंचायत राज, वन विभाग, दूर संचार, बदरी-केदार मंदिर समिति, गुरु द्वारा हेमकुंट साहिब, स्थानीय परिवहन कंपनियों के प्रतिनिधि एवं शीर्ष अधिकारियों ने अपने से संबंधित बिंदुओं पर प्रगति रिपोर्ट बैठक में रखी। अपर आयुक्त एवं यात्रा प्रशासन संगठन के विशेष कार्याधिकारी नरेन्द्र सिंह क्वीरियाल ने बताया कि अक्षय तृतीया 22 अप्रैल से चारधाम यात्रा शुरू हो रही है। श्री गंगोत्री- यमुनोत्री धाम के कपाट 22 अप्रैल अक्षय तृतीया के दिन खुलेंगे। जबकि श्री बदरीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल, केदारनाथ धाम के कपाट 25 अप्रैल तथा श्री हेमकुंट साहिब के 20 मई खुलेंगे।
यात्रा प्रशासन संगठन के वैयक्तिक सहायक एके श्रीवास्तव ने बताया कि संबंधित अधिकारियों ने बैठक में यात्रा संबंधित विभिन्न विषयों पर प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।

इस अवसर पर आयुक्त सुशील कुमार, डीआईजी गढ़वाल केएस नगन्याल, अपर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल सहित जिलाधिकारी देहरादून श्रीमती सोनिका, जिलाधिकारी हरिद्वार विनय शंकर पांडेय, जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग मयूर दीक्षित, सीडीओ चमोली डा. ललित नारायण मिश्र, एडीएम पौड़ी ईला गिरी,एडीएम टिहरी कृष्ण कुमार मिश्र, एसएसपी देहरादून कमलेश उपाध्यय, उपजिलाधिकारी ऋषिकेश सौरभ असवाल, नगर निगम आयुक्त राहुल गोयल,अर्पण यदुवंशी एसपी उत्तरकाशी, नवनीत सिंह रोटेशन अध्यक्ष संजय शास्त्री, पर्यटन विकास परिषद के सहायक निदेशक योगेन्द्र सिंह गंगवार, तहसीलदार उर्मिला शर्मा,एआरटीओ मोहित कोठारी,एआरटीओ मोहित पांडेय, इथिक्स इंफोटेक के गजेन्द्र सिंह, बीकेटीसी अधिशाषी अभियंता अनिल ध्यानी, वैयक्तिक सहायक एके श्रीवास्तव,डा. हरीश गौड़, किशन वर्मा आदि मौजूद रहे।

 

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2022 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 8920664806